myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

निश्चित रूप से दांतों की मजबूती के लिए नियमित इसकी साफ-सफाई और देखरेख की जरूरत होती है। नियमित ब्रश और फ्लाॅसिंग करके दांत में बचे खाने के कण निकाले जा सकते हैं ताकि दांत में कीड़े न हो। कैविटी होने से दांतों और मसूड़े दोनों को नुकसान हो सकता है। यहां तक कि कई अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं। बहरहाल शोधकर्ताओं ने यह पता लगाया है कि दांतों को मजबूत बनाने के लिए कुछ आहार विशेष हैं, जिन्हें अपनी डाइट में शामिल कर आप दांतों और मसूड़ों से संबंधित बीमारियों से दूर रह सकते हैं। जानिए इन आहार के बारे में।

चीज

जरनल ‘जनरल डेंटिस्ट्री’ में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार 12 से 15 साल के जो किशोर चीज खाते हैं, उनके मुंह में एसिड का स्तर शुगर फ्री दही और दूध का एक गिलास पीने वाले किशोरों की तुलना में बहुत कम होता है। अध्ययन के दौरान दूध और खाना खाने के बाद इन किशोरों ने 10, 20 और 30 मिनट बाद अपने मुंह को धोया। अलग-अलग समय इनके मुंह के पीएच स्तर को मापा गया। हैरानी की बात थी कि दूध और अन्य खाद्य पदार्थ खाने वाले किशोरों के मुंह का पीएच स्तर जरा भी नहीं बदला जबकि चीज खाने वाले किशोंरों के मुंह के पीएच स्तर में तेजी से गिरावट देखी गई। इस अध्ययन के आधार पर कहा जा सकता है कि शायद चीज एसिड को बेअसर कर सकता है।

फाइबर युक्त फल-सब्जियां

अमेरिकन डेंटल एसोसिएशन के अनुसार फाइबर युक्त आहार दांत और मसूड़ों को साफ करता है। फाइबर युक्त आहार से मुंह में लार बनता है। अतः दांतों की मजबूती के लिए ये आहार अच्छे विकल्प हैं। दरअसल लार प्राकृतिक तरीके से कैविटी और मसूड़ों संबंधी समस्याओं से लड़ने में सक्षम है। विशेषज्ञों के अनुसार शुगर या स्टार्च युक्त आहार खाने के 20 मिनट बाद आपके मुंह में लार की कमी हो जाती है जिससे एसिड और एंजाइम्स दांत को प्रभावित कर सकते हैं। लार में कैल्शियम और फास्फेट के कण होते हैं। लार खनिजों को दांतों के उन हिस्सों में भी पहुंचाता है, जहां से वे अपने बैक्टीरिया एसिड्स खो चुके होते हैं।

स्ट्राॅबेरी

गर्मियों के दिनों में स्ट्राॅबेरी खूब मिलती है। स्ट्राॅबेरी में मेलिक एसिड होता है जो दांतो को सफेद करने का प्राकृतिक स्रोत है। अतः दांतों के लिए स्ट्राॅबेरी को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। इसके साथ ही आप स्ट्राॅबेरी की मदद से दांतों की सफाई भी कर सकते हैं जैसे स्ट्राॅबेरी को क्रश करें। इसमें बेकिंग सोडा मिलाएं और दांतों के ऊपर टूथब्रश की मदद से घिसें। 5 मिनट तक ब्रश करने बाद कुल्ला कर लें। अंत में फ्लाॅस जरूर करें। दरअसल स्ट्राॅबेरी से दांत की सफाई के दौरान स्ट्राॅबेरी के छोटे-छोटे टुकड़े दांत में फंस सकते हैं जो कैविटी पैदा कर सकते हैं।

(और पढ़ें - दांतों को मजबूत करने के उपाय)

कुरकुरे आहार

गाजर, सेब, खीरा कुरकुरे आहार में शामिल होते हैं, क्योंकि इन्हें चबाने में मेहनत लगती है और इसके लिए मजबूत दांत की जरूरत होती है। लेकिन आपको यह भी बता दें कि दांतों की मजबूती के लिए ये खाद्य पदार्थ उपयोगी हैं। दरअसल ये फल सफाई तंत्र के रूप में काम करते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि ये फल आपके मुंह में रहकर कैविटी को बढ़ने देने के बजाय इन्हें निकालने में मदद करते हैं। इसका मलब है कि कुरकुरे आहार को सलाद के रूप में अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।

शुगर फ्री च्युइंगम

शुगर फ्री च्युइंगम चबाने की वजह से मुंह से लगातार सलाइवा निकलता है। लार प्राकृति रूप से मुंह से एसिड को खत्म करता है। बैक्टीरिया की वजह से मुंह में एसिड बनता है। इसके साथ ही जैसा कि पहले भी बताया गया है कि लार में कैल्शियम और फास्फेट के कुछ कण होते हैं। ये कण आपकी दांतों के लिए फायदेमंद हैं।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें