myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

ओरल सेक्स क्या है? ओरल सेक्स, सेक्स से पहले की जाने वाली प्रक्रिया है जिसे फोरप्ले कहते हैं। इसके तहत पार्टनर्स एक-दूसरे को चूमते हैं और गुप्तांगों को जीभ के जरिए चाटते हैं। यह प्रक्रिया मजेदार होने के बावजूद बहुत जोखिमभरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि ओरल सेक्स करने की वजह से थ्रोट कैंसर या गले का कैंसर होने का खतरा बढ़ सकता है। अतः यह जरूरी है कि आप ओरल सेक्स करें तो इससे पहले गले के कैंसर से संबंधित जोखिम के बारे में जानें। साथ ही इस लेख में हम जानेंगे कि ओरल सेक्स से किस तरह गले का कैसर हो सकता है और पहचाना कैसे जाए।

(और पढ़ें - गले में छाले का इलाज)

ओरल सेक्स और गले के कैंसर के बीच संबंध

ओरल सेक्स के दौरान ह्यूमन पपीलोमावायरस (एचपीवी) फैल सकता है जो कि कैंसर की आशंका को बढ़ाता है। कई देशों में एचपीवी सेक्सुअल ट्रांसमिटेड वायरस का मुख्य कारण है। हालांकि सेक्स के प्रति इतना ज्यादा सोच विचार करने की वजह से पार्टनर के प्रति अंतरंगता और जिंदगी की गुणवत्ता प्रभावित होती है। इसके बावजूद आपको चाहिए कि सेक्स करने से पहले कुछ अहतियात बरतें ताकि सेक्स संबंधी समस्याएं न हो सकें। 

(और पढ़ें - गले में गांठ का कारण)

गले के कैंसर के लक्षण

ओरल सेक्स की वजह से यदि गले में कैंसर हो तो निम्न लक्षण नजर आएंगे-

  • मुंह में छाले या अल्सर होना जो कि तीन हफ्तों तक भी ठीक न हो।
  • मुंह के नर्म ऊतक रंगहीन हो जाते हैं।
  • निगलने में दर्द होता है।
  • हमेशा लगता है कि गले में आहार फंस गया है।
  • निगलने के दौरान टाॅनसिल में दर्द नहीं हेाता।
  • चबाने में दर्द होना।
  • नियमित खांसी के साथ-साथ आवाज का बदल जाना।
  • मुंह और होंठों में सुन्नपन।
  • मुंह में सूजन या दाने होना।

ओरल सेक्स की वजह से कैंसर का बढ़ता जोखिम

ओरल सेक्स का सबसे बड़ा जोखिम एचपीवी है जिससे गले में कैंसर हेा सकता है। ऐसा खासकर कई सारे सेक्स पार्टनर की वजह से होता है। शोधों में पाया गया है कि महिलाओं की तुलना में पुरूषों में गले का कैंसर ज्यादा होता है। क्योंकि पुरूषों की इम्यूनिटी महिलाओं से कम होती है। इसके अलावा जो लोग नियमित 10 सालों से धूम्रपान कर रहे हैं, उन्हें भी गले के कैंसर का खतरा बना रहता है।

जोखिम कम कैसे करें

गले के कैंसर को कम करने के लिए निम्न तरीकों को आजमा सकते हैं-

  • बहुत सारे लोगों के साथ सेक्स न करें। आपके जितने ज्यादा सेक्सुअल पार्टनर होंगे, आप उतना ही ज्यादा ओरल सेक्स करेंगे और उतना ही ज्यादा आपको गले का कैंसर होने की आशंका बढ़ जाएगी। यदि ऐसा करना ही है तो कंडोम का इस्तेमाल अवश्य करें।
  • जब भी ओरल सेक्स करें, सावधानी जरूर बरतें।
  • बच्चों और किशोरों को संबंधित वैक्सीनेशन लगवाएं।
  • नियमित स्क्रीनिंग करवाएं। यदि कोई भी ट्यूमर या किसी तरह के लक्षण नजर आए, तो तुरंत डाॅक्टर से संपर्क करें। डाॅक्टर आपके गर्दन और मुंह को एग्जामिन करेंगे। साथ ही जीभ या टाॅन्सिल में किसी तरह की असामान्यता है या नहीं, इसकी जांच करेंगे।
  • धूम्रपान और शराब का सेवन कम करें। इससे भी गले के कैंसर की आशंका में कमी आती है।

कुल मिलाकर कहने की बात यह है कि ओरल सेक्स, एंज्वाॅय करने का एक जरिया जरूर है। लेकिन यह मजा तब किरकिरा सकता है, जब आपके इसके जोखिम से अजनान हों। यकीनन यहां बताई गई सभी बातें आपके लिए उपयोगी होंगी।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें