myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

जब भी किसी पुरुष के मन में काम या सेक्स की भावना बढ जाती है, जिससे उसका लिंग उत्तेजना की अवस्था में आ जाता है। इस अवस्था में व्यक्ति के लिंग से पानी के रंग के जैसी पतली लेस के रूप में वीर्य निकलने लगती है इसे ही धात गिरना कहते हैं। धात गिरना ही घातु रोग कहलाता है। इसके अलावा धातु रोग को शुक्र-मेह भी कहा जाता है। ये समस्या नौजवानों में आमतौर पर अधिक होता है।

(और पढ़ें - sex kaise karte hain)

  1. धात रोग को ठीक करने में उपयोगी है तरबूज़ - Dhat rog ki thik kare tarbooj se in Hindi
  2. धातु रोग में लाभदायक है एवोकोडो - Dhat girne se rokne ka upay hai avocado in Hindi
  3. धात रोग को कम करने का तरीक़ा है अजमोद - Dhat girne ka gharelu upay hai parsley in Hindi
  4. धातु रोग को ठीक करने का घरेलू उपाय है दही - Dhat rog se chutkara dilata hai dahi in Hindi
  5. धात रोग से राहत दिलाता है हर्बल चाय या सेग टी - Dhat rog dur karne ka nuskha hai herbal tea in Hindi
  6. धातु रोग जड़ से खत्म करे मेथी से - Dhatu rog khatam kare methi se in Hindi
  7. धात रोग को कम करने का उपाय है प्याज - Dhat rog ka upay hai pyaj in Hindi
  8. धातु रोग में उपयोगी है लौकी जूस - Dhatu rog ka upay hai lauki juice in Hindi
  9. धात रोग को कम करने के लिए रात को सोने से पहले नहाएं - Dhat rog ka gharelu upay hai sone se phale nahayen in Hindi
  10. धातु रोग से बचने का उपाय है केला और दूध - Dhatu rog se bachne ke upay hain kela aur dudh in Hindi
  11. धात रोग से राहत पाएं बेर पाउडर और दूध से - Dhat rog se rahat pane ka tarika hai ber powder aur dudh in Hindi

तरबूज में बहुत अधिक मात्रा में सिट्रुलिन पाया जाता है। ये नाइट्रिक ऑक्साइड के साथ मिल कर हमें आराम देता है। साथ ही ये रक्त वाहिकाओं को चौड़ा बनाता है और लिंग में अधिक से अधिक खू़न पहुंचाता है।

आवश्यक सामग्री -

तरबूज़

इसे कितनी बार खाएं -

इसे आप नियमित रूप से खा सकते हैं।

एवोकाडो में बहुत अधिक मात्रा में फोलिक एसिड पाया जाता है, जो प्रोटीन को पचाने में मदद करता है। इसके अलावा एवोकाडो में मौजूद विटामिन बी 6, टेस्टोस्टेरोन के वृद्धी को प्रोत्साहित करता है।

अजमोद एक शक्तिशाली उत्तेजक है। साथ ही इसमें में एंड्रोस्टेरोन पाया जाता है। एंड्रोस्टेरोन एक प्रकार का सुगंध रहित हर्मोन है, जो परूषों में पसीना के साथ निकलता है। सोने से पहले रोज़ाना अजमोद की पत्तियों का जूस पिएं।

आवश्यक सामग्री -

1 गिलास पानी

अजमोद की पत्तियां

अजमोद को इस्तेमाल करने का तरीक़ा -

पानी और पत्तियों को मिलाकर जूस बना लें

इसे कितनी बार इस्तेमाल करें -

रोज़ाना कम से कम एक बार इस जूस को पिएं

दही में एक बहुत अच्छा सप्लिमेंट है। इसमें बहुत अधिक मात्रा में खनिज पाई जाती है, जो आपकी शारीरिक शक्ति को बढ़ाने और फिट रखने में मदद करता है। रोज़ाना 2 से 3 कप दही खाने से स्वप्न दोष को कम करने में मदद मिलती है। साथ ही ये अच्छी नींद में भी सहायक है। (और पढ़ें - स्वास्थ्य के लिए दही के फायदे)

आवश्यक सामग्री -

दही

इसे कितनी मात्रा में खाएं -

रोज़ाना कम से कम 3 से 4 कप दही खाएं।

सोने से पहले हर्बल चाय या सेग की पत्तियों की चाय पीने से स्वप्न दोष नहीं होता है, स्वप्न दोष कामुक सपने की वजह से होता। इसके अलावा ये वीर्यपात से भी बचाता है।

मेथी, हार्मोन को असंतुलन करने वाली समस्याओं के इलाज में बहुत उपयाोगी है। इसके अलावा ये पाचन संबंधी समस्या में भी सहायक है। सोने से 30 मिनट पहले मेथी रस और शहद को मिलाकर पिएं।

अपने आहार में प्याज को शामिल करना, स्वप्न दोष को रोकने का एक प्राकृतिक उपाय है। साथ ही ये मांसपेशियों को आराम पहुंचाने में भी मदद करता है। इसके अलावा ये पूरे शरीर में रक्त के प्रवाह को बेहतर बनाता है और ख़राब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करता है। साथ ही ह्रदय को भी स्वस्थ रखने में मदद करता है

लौकी का जूस स्वप्न दोष को दूर करने का एक प्रभावी उपाय है। साथ ही ये तंत्रिका तंत्र संबंधी विकार के जोखिम को भी कम करता है और अच्छी नींद में भी बहुत लाभदायक है। इसके अलावा आप तिल के तेल और लौकी जूस से सिर का मसाज कर सकते हैं, इससे आपको बेहतर नींद आयेगी।

सोने से पहले आराम करना, स्वस्न दोष को दूर करने का एक प्राकृतिक इलाज है। साथ ही नहाने के लिए गर्म पानी लें, इसमें आराम देने वाले तेल की कुछ बूंदे मिलाएं और सोने से पहले इस पानी से नहाएं। इससे अपका मन शांत होगा और शरीर को भी आराम मिलेगी। इसके अलावा बॉडी मसाज के लिए आप जैतून का तेल, कैमोमाइल तेल, लैवेंडर ऑयल, अरंडी का तेल और चंदन के लकड़ी के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

रोज़ाना केला खाएं और उसके तुरंत बाद गर्म दूध पिएं। इससे वीर्यपात को रोकने में मदद मिलती है।

दो चम्मच बेर पाउडर को 1 गिलास दूध में मिला कर पिएं। ये उपाय स्वप्न दोष को दूर करने में मदद करता है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें