myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -
संक्षेप में सुनें

सर्दी जुकाम के लक्षण - नाक बहना, गले में जमाव (खिचखिचाहट) और लगातार छींकना - को कोई भी पहचानता है। लेकिन इसके बारे में तथ्य बहुत की कम लोगों को मालूम होते हैं, जैसे की सर्दी जुकाम, सर्दी जुकाम के कारण और सर्दी जुकाम के उपचार या इलाज क्या हैं। और सबसे महत्वपूर्ण बात आप सर्दी जुकाम से दूर कैसे रह सकते हैं। यहां इन सब के बारे में बताया गया है - 

सर्दी जुकाम क्या होता है​?

सर्दी जुकाम एक वायरस के कारण होता है। 200 से अधिक प्रकार के वायरस इस बीमारी के लिए जिम्मेदार होते हैं, लेकिन राइनोवायरस इनका सबसे आम प्रकार है। 50% सर्दी जुकाम के मामलों के लिए जिम्मेदार माना जाता है। कोरोनावायरस, रेस्पिरेटरी सिनसिशल वायरस (respiratory syncytial virus), इन्फ्लूएंजा और पैराइनफ्लुएंजा कुछ अन्य ऐसे वायरस हैं जिसकी वजह से सर्दी जुकाम हो सकता है। 

आम सर्दी जुकाम कैसे शुरू होता है?

यह बीमारी आपको उन लोगो से हो सकती है जो पहले से इस वायरस से ग्रसित होते हैं। किसी ऐसे व्यक्ति के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाने से जिसे पहले से सर्दी जुकाम हो या फिर उन सतह को छूने से जो इस वायरस से दूषित हो जैसे कि कंप्यूटर कीबोर्ड, दरवाजे की कुंडी या चम्मच, या तो फिर किसी के नाक या मुख को छूने से जो इस वायरस से दूषित हो। यह आपको किसी के छीकंने या खांसी द्वारा जारी हवा में संक्रमित बूंदों से भी पकड़ सकते हैं। 

सर्दी जुकाम तब होता है जब कोई वायरस आपके नाक या गले के अस्तर से जुड़ जाता है। आपके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली इन रोगाणुओं के खिलाफ रक्षा करती है और इन रोगाणुओं पर हमला करने के लिए सफेद रक्त कोशिकाओं को भेजती है। अगर आप इस वायरस से पहले संक्रमित नहीं हुए हैं, तो आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति उस से लड़ने के लिए तैयार नहीं होती है। इस कारण से आपकी नाक और गले में सूजन आ जाती है और बलगम बन जाता है। आपको शायद यह महसूस ना हो लेकिन सर्दी जुकाम के वायरस से लड़ने में आपके शरीर की बहुत ऊर्जा खर्च हो जाती है, जिसकी वजह से  आप खुद को थका हुआ महसूस करते हैं। 

एक मिथक जिसका पर्दाफाश करने की आवश्यकता है - ठंड लगने से या गीले होने से आप बीमार नहीं पड़ते हैं। हालांकि इनकी वजह से जुकाम होने की संभावना जरूर बढ़ जाती है। सच तो यह है कि जुकान होने की संभावना तब ज्यादा बढ़ जाती है जब आप बहुत ज्यादा थके हों, भावनात्मक तनाव में हों या फिर आपको गले या नाक में एलर्जी हो।

(और पढ़ें - सर्दी जुकाम के घरेलू उपाय)

  1. सर्दी जुकाम के चरण - Stages of Common Cold in Hindi
  2. सर्दी जुकाम के लक्षण - Common Cold Symptoms in Hindi
  3. सर्दी जुकाम के कारण - Common Cold Causes in Hindi
  4. सर्दी जुकाम से बचाव - Prevention of Common Cold in Hindi
  5. सर्दी जुकाम का परीक्षण - Diagnosis of Common Cold in Hindi
  6. सर्दी जुकाम का इलाज - Common Cold Treatment in Hindi
  7. सर्दी जुकाम के जोखिम और जटिलताएं - Common Cold Risks & Complications in Hindi
  8. सर्दी जुकाम की दवा - Medicines for Common Cold in Hindi
  9. सर्दी जुकाम की ओटीसी दवा - OTC Medicines for Common Cold in Hindi
  10. सर्दी जुकाम के डॉक्टर

सर्दी जुकाम के चरण - Stages of Common Cold in Hindi

सर्दी जुकाम के चरण -

क्योंकि आम सर्दी जुकाम कई अलग अलग वायरस के कारण हो सकता है, इसके लक्षण की प्रगति और गंभीरता हर व्यक्ति में भिन्न होती हैं। सामन्य तौर पर, संक्रमित होने के दो से तीन दिनों के बाद इसके लक्षण विकसित होने की संभावना होती है।

ऐसा भी हो सकता है कि कुछ व्यक्तियों में इसके लक्षण बहुत हलके हों, जबकि किसी अन्य व्यक्ति को इसके काफी गंभीर लक्षण भी हो सकते हैं। सर्दी जुकाम के लक्षणों के प्रकार भी भिन्न होते हैं। कुछ व्यक्तियों को केवल नाक में बलगम का जमाव हो सकता है, जबकि किसी अन्य व्यक्ति में इसके सारे लक्षण हो सकते हैं। कौन से लक्षण विकसित होते हैं, ये संक्रमित व्यक्ति के अंतर्निहित स्वास्थ्य पर निर्भर करता है। 

अधिकांश लोगों में सर्दी जुकाम सात से दस दिनों के बाद ठीक हो जाता है, हालांकि कुछ व्यक्तियों को ठीक होने में कम या ज्यादा समय भी लग सकता है। फिर से यह इस पर निर्भर करता है कि किस वायरस की वजह से संक्रमण हुआ था और साथ ही रोगी का अंतर्निहित स्वास्थ्य कैसा है। 

सर्दी जुकाम के लक्षण - Common Cold Symptoms in Hindi

सर्दी जुकाम के लक्षण आमतौर पर दिखने में कुछ दिन लगते हैं। ऐसा बहुत कम होता है कि जुकाम के लक्षण अचानक दिखाई दें।

अक्सर हम जुकाम और फ्लू के लक्षणों के बीच अंतर नहीं कर पाते हैं। लेकिन जुकाम और फ्लू के लक्षणों  के अंतरों को जानने से आपको यह तय करने में मदद मिल सकती है की आप अपना इलाज कैसे करें। आपको ये भी अंदाज़ा हो जाएगा की आपको डॉक्टर के पास जाने की जरुरत है या नहीं। 

सर्दी जुकाम के नाक संबंधी लक्षण -

सर्दी जुकाम के मस्तिष्क और गर्दन संबंधी लक्षण -

सर्दी जुकाम के शारीरिक लक्षण -

सर्दी जुकाम के कारण - Common Cold Causes in Hindi

सर्दी-जुकाम क्यों होता है?

सर्दी जुकाम ऊपरी श्वसन तंत्र में होने वाली एक सामान्य बीमारी है।

सर्दी खांसी तब होती है, जब किसी संक्रमित व्यक्ति के छींकने, खाँसी, या उनके भाषण से उनकी नाक से निकले वायरस कणों से संक्रमित वायु में आप सांस लेते हैं और सांस के साथ वायरस हमारे शरीर के अंदर चला जाता है। आपको यह वायरस उन दूषित वस्तुओं जैसे कि दरवाजे की कुंडी, टेलीफोन, बच्चों के खिलौने, और तौलिए से जो एक संक्रमित व्यक्ति के छूने से दूषित हो चुके हैं। उन चीजों को छूने से भी संक्रमित कर सकता है। राईनोविषाणु (rhinovirus; जो सर्दी खांसी में सबसे आम कारण होता है) किसी मजबूत सतह पर या फिर हांथो पर 3 घंटे तक जीवित रह सकता है। 

अधिकांश वायरस को कई समूहों में से एक में वर्गीकृत किया गया है। इन समूहों में शामिल हैं:

  1. मानव राइनोवायरस
  2. कोरोनावायरस 
  3. पैराइनफ्लुएंजा वायरस
  4. एडिनोवायरस

कुछ अन्य सामान्य वायरसों को जो सर्दी खांसी का कारण बनते हैं उनको अलग चुना गया है, जैसे श्वसन सिन्सिटियल वायरस। पर अभी भी कुछ ऐसे अन्य वायरस हैं जो आधुनिक विज्ञान से अभी तक पहचाने नहीं गए हैं।

सर्दी जुकाम से बचाव - Prevention of Common Cold in Hindi

हालांकि सर्दी जुकाम को पूरी तरह से रोकना असंभव है, पर कुछ ऐसे कदम हैं जिनसे आप अपने और अपने परिवार को इस वायरस से संक्रमित होने की संभावना को कम कर सकते हैं - 

  • अपने हाथों को अक्सर धोएं -
    ये सर्दी जुकाम से बचने का सबसे बढ़िया तरीका है। विशेष रूप से, किसी सार्वजनिक स्थान से वापस घर आने पर हाथ जरूर धो लें। अगर आप लगातार हाथ धोते हैं तो यह उन वायरस को नष्ट करने में मदद करता है जो वायरस आप अन्य संक्रमित लोगों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सतहों से प्राप्त करते हैं। यदि आप किसी सार्वजनिक स्थान पर जाते हैं, तो अपने साथ हाथो का सैनिटाइजर लेके जाएं और उस से अपने हाथों को साफ कर लें ताकी आप किसी वायरस से संपर्क में आ भी गए हैं, तो एसा करने से उसे खत्म करने में मदद मिलेगी। और अपने बच्चों को भी हाथ धोने का महत्व जरूर सिखाएं।
     
  • अगर आप किसी संक्रमित व्यक्ति के आसपास हैं या किसी सार्वजनिक क्षेत्र के दूषित सतह के संपर्क में आए हैं तो अपने चेहरे को, विशेष रूप से नाक, मुंह और आंख के क्षेत्रों को ना छूएं। ऐसा करने से अगर आपके हाथों पर वायरस हो, तो उस वायरस की आपकी श्वसन प्रणाली में घुसने की संभावना कम हो जाएगी। 
     
  • धूम्रपान न करें -
    सिगरेट का धुआं वायुमार्गों को परेशान कर सकता है और सर्दी जुकाम या अन्य संक्रमणों के संवेदनशीलता को बढ़ा सकता है। यहां तक कि निष्क्रिय धुऐं के संपर्क में आने से भी आपको (या आपके बच्चों को) सर्दी जुकाम के लक्षण हो सकते हैं। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के उपाय)
     
  • अगर आपके परिवार में कोई व्यक्ति संक्रमित हो तो डिस्पोजेबल खाने के बर्तनों का उपयोग करें। डिस्पोजेबल कप या गिलास प्रत्येक उपयोग के बाद फेंक दिए जा सकते हैं। ऐसा करने से वायरस के आकस्मिक प्रसार को रोकने में मदद मिलती है।
     
  • घरेलू सतहों को साफ रखें -
    दरवाज़े की कुण्डी, ड्रॉअर के हैंडल, कीबोर्ड, इलेक्ट्रिक स्विच, टेलीफोन, रिमोट कंट्रोल, काउंटरटॉप्स, सिंक आदि यदि किसी संक्रमित व्यक्ति द्वारा उपयोग किए जाएं तो कुछ घंटों तक इन सतहों पर वायरस रह सकते हैं। इन सतहों को अच्छी तरह साबुन या निस्संक्रामक सलूशन द्वारा साफ़ करना चाहिए। 
     
  • यदि आपके बच्चे को सर्दी जुकाम है, तो उनके खिलौनो को अच्छी तरह से धो लें जब आप घरेलू सतहों या आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली वस्तुओं की साफ सफाई कर रहे हों।
     
  • हाथ सुखाने के लिए रसोईघर और बाथरूम में पेपर तौलिए का उपयोग करें -
    रोगाणु कपड़े के तौलिए पर कई घंटो तक रह सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, प्रत्येक परिवार के सदस्य के लिए अलग तौलिया होना चाहिए और मेहमान के लिए अलग से एक साफ़ तौलिया रखें।
     
  • उपयोग के बाद टिश्यू पेपर को अच्छी तरह से फेंके क्यूंकि इस्तेमाल किया हुआ टिश्यू पेपर, आप जिस सतह पर रखेंगे वह सतह दूषित हो जाती है और वायरस के स्रोत का कारण बन सकती है।
     
  • स्वस्थ जीवन शैली बनाए रखें -
    हालांकि, यह कहना मुश्किल है की अच्छा खाना या व्यायाम करने से सर्दी जुकाम को रोका जा सकता है, लेकिन स्वस्थ जीवन शैली (पर्याप्त नींद, swasth पोषण, व्यायाम) से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली संक्रमण से ज्यादा अच्छी तरह से लड़ सकेगी।
     
  • तनाव कम रखें -
    अध्ययनों से पता चला है कि भावनात्मक तनाव का अनुभव करने वाले लोगों में प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है और तनाव रहित रहने वाले लोगों की तुलना में तनावग्रस्त लोगों को सर्दी जुकाम होने की संभावना अधिक होती है।

सर्दी जुकाम का परीक्षण - Diagnosis of Common Cold in Hindi

सर्दी खांसी के निदान -

सर्दी खांसी के निदान के लिए शायद ही आपको डॉक्टर से मिलने की आवश्यकता होती है। जुकाम के लक्षणों की पहचान करना ही अक्सर इसका निदान है। यदि ये लक्षण एक सप्ताह या उससे ज्यादा समय तक जारी रहते हैं तो आपको डॉक्टर को दिखाने की जरूरत है, क्योंकि शायद ये किसी और बीमारी के लक्षण हो सकते हैं जैसे कि फ्लू या गले से संबंधित कोई बीमारी।

यदि आपको सिर्फ सर्दी खांसी ही है तो आप उम्मीद कर सकते हैं कि इसका वायरस लगभग एक सप्ताह से 10 दिन तक ही आपको संक्रमित रख सकता है। फ्लू से संक्रमित व्यक्ति भी 1 सप्ताह तक के समय में ठीक हो जाता है। लेकिन अगर संक्रमण के लक्षण एक सप्ताह में खत्म नहीं हो पाते, तो किसी अन्य बीमारी के पनपने की संभावना भी हो सकती है।    

शरीर में फ्लू के लक्षण हैं या जुकाम के, इसके बारे में ठीक से जानने के लिए डॉक्टरों को बहुत सारे टेस्ट लेने पड़ सकते हैं। क्योंकि जुकाम और फ्लू के लक्षण और उपचार एक जैसे ही होते हैं, इसका निदान केवल यह सुनिश्चित करने में आपकी मदद करता है कि आप स्वस्थ होने के लिए पर्याप्त ध्यान दे रहे हैं या नहीं।

सर्दी जुकाम का इलाज - Common Cold Treatment in Hindi

सामान्य सर्दी जुकाम के लिए उपचार क्या हैं?

सर्दी जुकाम का कोई इलाज नहीं है। इसलिए इलाज के दो लक्ष्य होते हैं: आपको बेहतर महसूस कराना और वायरस से लड़ने में आपकी मदद करना।

बहुत ज्यादा आराम करना सर्दी खांसी के उपचार के लिए महत्वपूर्ण होता है। कोशिश करें कि रात को 10 से 12 घंटो तक सोएं। आप गर्म और नम वातावरण में सबसे आरामदायक महसूस करेंगे। अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखना बहुत महत्वपूर्ण है इसलिए जितना ज्यादा हो सके पानी पीएं। इससे गले में बलगम के प्रवाह में आसानी होती है और साथ ही गले में जमाव को कम करने में मदद मिलती है।

सर्दी जुकाम जिस वायरस की वजह से होता है, उसके लिए कोई विशिष्ट उपचार मौजूद नहीं है। लेकिन इसके लक्षणों के उपचार से आपको राहत मिल सकती है। अगर किसी बच्चे को 100.5 डिग्री या उससे अधिक के बुखार के साथ दर्द और पीड़ा है, तो उसे पेरासिटामोल (paracetamol) दी जाती है (दवाई लेने से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें)। वयस्क भी पेरासिटामोल ले सकते हैं।

यदि आपके गले में दर्द हो रहा है, तो अक्सर 1 कप गर्म पानी में 1/2 चम्मच नमक मिलाकर उससे आप गरारे करें।

सर्दी जुकाम की दवा जिसमे स्यूडोएफेड्रिन (pseudoephedrine) होता है आपकी नाक को खोलने में और साफ करने में मदद करता है लेकिन एक अस्थायी रूप से। डिकॉन्स्टेस्टेंट (नाक का स्प्रे) जैसे ऑक्सीमेटाज़ोलिन (आफरीन) भी इसमें मदद करते हैं।  लेकिन अगर उनका उपयोग तीन या पांच दिनों से ज्यादा हो, तो वे "रिबाउंड" प्रभाव का कारण बन सकते हैं। इसका मतलब है कि नाक और गले में अधिक बलगम पैदा होना और गले में जमाव को बढ़ा देना। स्यूडोएफेड्रिन आपके रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) और हृदय की दर को बढ़ा सकता है।

अगर आपको हृदय रोग, हाई बी पी, प्रोस्टेट कैंसर या प्रोस्टेट की अन्य समस्या, मधुमेह या थायराइड की समस्याएं हैं तो ऐसे में बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी प्रकार की दवाई ना लें।

(और पढ़ें - स्ट्रोक का इलाज)

सर्दी जुकाम के जोखिम और जटिलताएं - Common Cold Risks & Complications in Hindi

ऐसे कईं जोखिम कारक हैं जो सामान्य सर्दी जुकाम का खतरा बढ़ा देते हैं, जिनमें से कुछ नीचे दिए गए हैं:

  1. आयु: शिशुओं और छोटे बच्चों में सामान्य सर्दी खांसी होने की अधिक संभावना होती है क्योंकि बच्चों की उम्र में प्रतिरक्षा (इम्यून सिस्टम) पूरी तरह से विकसित नहीं हो पाता जो इस निषिद्ध वायरस को पूरी तरह से खत्म कर सके। 
  2. मौसमी विविधता: कुछ लोगो में इसके लक्षण, सर्दियों या बरसात के मौसम(जो गर्म महीनो में) के दौरान देखने को मिलते हैं और आमतौर पर उनको इसी मौसम में सर्दी खांसी हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस मौसम में लोग घर के अंदर रहना पसंद करते हैं और एक-दूसरे के निकट होने के कारण उनके संपर्क में आते रहते हैं।
  3. कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली: कुछ लोगों में कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली के कारण भी उनमें सामान्य सर्दी जुकाम होने की अधिक संभावना रहती है। इसके अलावा, अत्यधिक थकान या जिन लोगों के मन में ज्यादा भावनात्मक संकट हो ऐसे व्यक्तियों में सामान्य सर्दी खांसी होने की संभावना ज्यादा रहती है।
Dr.Priyanka Trimukhe

Dr.Priyanka Trimukhe

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Nisarg Trivedi

Dr. Nisarg Trivedi

सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव

Dr MD SHAMIM REYAZ

Dr MD SHAMIM REYAZ

सामान्य चिकित्सा
7 वर्षों का अनुभव

Dr. prabhat kumar

Dr. prabhat kumar

सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव

सर्दी जुकाम की दवा - Medicines for Common Cold in Hindi

सर्दी जुकाम के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine Name
Grilinctus Cd खरीदें
Kolq खरीदें
Ekon खरीदें
Xyzal खरीदें
Vasograin खरीदें
Allercet खरीदें
Act खरीदें
Normovent खरीदें
Ceteze खरीदें
Alday Am खरीदें
Parvo Cof खरीदें
Ceticad Plus खरीदें
Ambcet खरीदें
Phenkuff खरीदें
Cetipen खरीदें
Ambcet Cold खरीदें
Phensedyl Cough खरीदें

सर्दी जुकाम की ओटीसी दवा - OTC medicines for Common Cold in Hindi

सर्दी जुकाम के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine Name
Himalaya Tulasi Tablet खरीदें
Zandu Kesari Jivan खरीदें
Patanjali Balm खरीदें
Baidyanath Mahalaxmi Vilas Ras Gold खरीदें
Dabur Honitus Madhuvaani खरीदें
Patanjali Tulsi Ghan Vati खरीदें
Baidyanath Godanti Mishran खरीदें
Hamdard Joshina Syrup खरीदें
Patanjali Tulsi Panchang Juice खरीदें
Baidyanath Chitrak Haritaki खरीदें
Divya Madhunashini Vati खरीदें
Zandu Sudarshan Tablet खरीदें
Baidyanath Eladi Vati खरीदें
Baidyanath Bhringrajasava खरीदें
Zandu Sona Chandi Chyavanprash Plus खरीदें
Baidyanath Marichyadi Bati खरीदें
Baidyanath Laxmivilas Ras खरीदें
Zandu Ultra Power Balm खरीदें

References

  1. National Health Service [Internet] NHS inform; Scottish Government; Common Cold
  2. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Common Cold and Runny Nose
  3. National Health Service [Internet]. UK; Common Cold
  4. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Common Colds: Protect Yourself and Others
  5. Ronald B. Turner. Rhinovirus: More than Just a Common Cold Virus . The Journal of Infectious Diseases, Volume 195, Issue 6, 15 March 2007, Pages 765–766. [Internet] Infectious Diseases Society of America.
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ