myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

बालों के झड़ने की समस्या आपको बहुत ही परेशान कर देती है और इसके कई कारक हैं जो इस समस्या को बढ़ावा देते हैं जैसे अनुवांशिक, जीवनशैली, डाइट और बालों की रोज़ाना की देखभाल। हालाँकि आप कुछ कारकों को नियंत्रित नहीं कर सकते जैसे अनुवांशिकता, लेकिन कुछ परिवर्तन करके आप इस समस्या को बढ़ने से रोक सकते हैं।

(और पढ़ें - बालों को बढ़ाने का तेल)

बालों को झड़ने से रोकने के लिए कुछ ऐसे आवश्यक तेल हैं जो उन्हें पोषित करने में मदद करते हैं। ये तेल आप घर में बना सकते हैं और अपनी जड़ों को मजबूत, बालों को घना और स्वस्थ कर सकते हैं। 

(और पढ़ें - हेयर फॉल टिप्स और सलूशन)

तो आइये आपको बताते हैं बालों को झड़ने से रोकने के लिए आप घर पर तेल कैसे बनाएं –

  1. बालों को झड़ने से रोकने के लिए एलो वेरा तेल का करे इस्तेमाल - Homemade aloe vera oil for hair fall in Hindi
  2. बाल गिरने से रोकने के लिए गुड़हल से बना तेल - Homemade hibiscus oil reduces hair fall in Hindi
  3. बाल टूटने से रकने के लिए आंवला के तेल से पोषण दें - Homemade Amla oil treats hair loss in Hindi
  4. गिरते बालों के लिए प्याज का तेल - Homemade Onion oil prevents hair loss in Hindi
  5. अदरक के तेल के फायदे से बालों को टूटने से रोकें - Ginger oil good for hair loss in Hindi
  6. झड़ते बालों के लिए घर पर बनाएं नारियल का तेल - Benefits of coconut oil for hair loss in Hindi
  7. टूटते बालों के लिए बादाम का तेल है फायदेमंद - Almond oil helps to get rid of hair fall in Hindi
  8. बालों को टूटने से रोकने का तरीका है जैतून का तेल - Olive oil cure hair fall in Hindi
  9. झड़ते बालों के लिए घर पर बना अरंडी का तेल है लाभदायक - Castor oil benefits for hair fall in Hindi
  10. झड़ते बालों के लिए लैवेंडर का तेल है उपयोगी - Lavender oil for hair fall in Hindi

एलो वेरा जेल बालों के लिए बेहद फायदेमंद है। इसमें 20 अलग अलग एमिनो एसिड होते हैं जो बालों को मजबूती और पोषण देते हैं क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में पानी होता है। विटामिन ए और विटामिन ई दो महत्वपूर्ण विटामिन्स एलो वेरा जेल में पाए हैं जो बालों को रूखा होने से और टूटने से बचाते हैं। ये बालों की रोम को ठीक करता है, बालों को बढ़ाता है और उन्हें कोमल और चमकदार भी करता है। नारियल का तेल विटामिन और फैटी एसिड से भरपूर होते हैं जो रक्त परिसंचरण को सुधारते हैं और झड़ते बालों को नियंत्रित करते हैं।

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. एक एलो वेरा की पत्ती।
  2. एक या दो कप नारियल का तेल।
  3. रोज़मेरी तेल (वैकल्पिक)।

विधि –

  1. सबसे पहले एलो वेरा को दो हिस्सों में काट लें और फिर उसका जेल एक कटोरी में निकाल लें।
  2. फिर एलो वेरा जेल को नारियल के तेल में मिला दें।
  3. दोनों ही मिश्रण बराबर मात्रा में होने चाहिए।
  4. अब इस मिश्रण को पांच से सात मिनट तक हल्की आंच पार गर्म कर लें।
  5. फिर इसे आंच से हटा लें और पूरी तरह से ठंडा होने के लिए रख दें।
  6. अब इसमें रोज़मेरी तेल की पांच बूँदें मिलाएं और फिर इस तेल को एक बोतल में डाल दें।
  7. इस तेल को दो हफ्ते तक फिर ठंडी जगह रखे रहने दें।

एलो वेरा तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. एक कटोरी में इस तेल को बालों के अनुसार निकाल लें।
  2. अब तेल को गुनगुना कर लें और फिर इसे अपनी उँगलियों पर लेकर बालों और जड़ों में लगाएं।
  3. हल्के हल्के दो मिनट तक मसाज करें और फिर इस तेल को बालों और जड़ों में एक घंटे के लिए रहने दें।
  4. इसके बाद बालों को शैम्पू से धो लें और कंडीशनर करें।
  5. इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार ज़रूर करें।

एलो वेरा के फायदे –

घर का बना एलो वेरा तेल बालों के उत्पादन को उत्तेजित करता है, कमज़ोर बालों को मजबूत बनाता है और बालों को टूटने से रोकता है। ये रूखे, डैंड्रफ के कारण जड़ों में खुजली जैसी समस्याओं का इलाज करता है। ये बालों को पोषण और नमी देता है और जड़ों का PH स्तर संतुलित करता है।    

(और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे और नुकसान)

गुड़हल में बालों के लिए कई फायदे मौजूद होते हैं। ये एमिनो एसिड, विटामिन ए, विटामिन सी से समृद्ध होता है और बालों को पोषण देने के लिए इसमें खनिज भी होते हैं जो बालों को टूटने से बचाते हैं और सफ़ेद होने से रोकते हैं। गुड़हल बालों को मोटा, घना, कोमल और चमकदार करने के लिए बढ़ावा भी देता है। अगर आपके बाल कुछ ज़्यादा ही टूट रहे हैं और सफ़ेद हो रहे हैं तो गुड़हल का तेल आपको बहुत ज़्यादा लाभ देने में मदद करेगा।   

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के लिए हेयर मास्क)

सामग्री –

  1. दो गुड़हल के फुल।
  2. एक या दो कप गुड़हल की पत्तियां।
  3. एक या कप नारियल का तेल।
  4. एक या चार कप बादाम का तेल।

विधि –

  1. सबसे पहले गुड़हल की पंखुड़ियों और पत्तियों को धो लें।
  2. अब इन्हे सूरज के सामने रख लें या फिर इन्हे ओवन में रख लें।
  3. अब पैन को गर्म करें और फिर नारियल के तेल और बादाम के तेल को उसमे मिला लें।
  4. फिर ध्यान से उसमे गुड़हल की पत्तियों को और पंखुड़ियों को डालें।
  5. डालने के बाद गैस को कम कर दें और पांच मिनट के लिए इसे ऐसे ही उबलते रहने दें।
  6. अब इसे ठंडा होने को रख दें और मिश्रण को फिर साफ़ बोतल में छान लें

गुड़हल तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले तेल को बालों के अनुसार लें।
  2. फिर हल्का तेल को गर्म करें।
  3. अब गुड़हल तेल सीधा जड़ों और बालों की छोर पर लगाएं।
  4. फिर धीरे धीरे अच्छे से पूरे बालों में तेल को लगा लें।
  5. दो मिनट तक मसाज करें जिससे आपकी जड़ों में रक्त परिसंचरण अच्छे से हो और तेल भी इस तरह अच्छे से अवशोषित हो जाए।
  6. अगले दिन बालों को शैम्पू से धोएं।

गुड़हल के फायदे –

घर का बना गुड़हल तेल आपके बालों को कोमल, चमकदार बनाता है और दो मुहें या सफ़ेद बालों से लड़ता भी है। ये तेल बालों की रोम को उत्तेजित कर उन्हें बढ़ने में मदद करता है, बालों का टूटना दूर करता है और उन्हें चमकदार और मुलायम बनाता है।   

(और पढ़ें - गुड़हल के फायदे और नुकसान)

आंवला बालों के लिए एक प्राकृतिक टॉनिक है। ये झड़ते बालों के लिए एक प्रभावी उपाय है और सफ़ेद बालों के लिए एक प्राकृतिक रंग भी देता है। आंवला में बालों को फिर से सुंदर बनाने के और कंडीशनिंग के गुण मौजूद होते हैं जो बालों को बढ़ाते हैं और चमक को बढ़ावा देते हैं। आंवला जड़ों में एक ठंड़कीय प्रभाव देता है और तनाव को दूर करता है।

(और पढ़ें - गंजापन दूर करने के उपाय)

सामग्री –

  1. दो ताज़ा आंवला।
  2. चार चम्मच नारियल का तेल।
  3. दो चम्मच तिल का तेल

विधि –

  1. आंवला को सबसे पहले छोटे छोटे टुकड़ों में काट लें और फिर इन्हे एक घंटे के लिए छाओं में सूखने के लिए रख दें।
  2. अब छोटे पैन में नारियल के तेल, तिल के तेल और ताज़ा आंवला के टुकड़ों को डाल दें।
  3. अब इस मिश्रण को हल्की आंच में गर्म कर लें तब तक जब तक उसके बुलबुले दिखना बंद न हो जाएँ।
  4. अब इन्हे आंच से हटा लें और ठंडा होने के लिए रख दें।
  5. फिर इस तेल को एक साफ़ बोतल में डालकर रख दें।  

आंवला के तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले अपने बालों को दो हिस्सों में बाँट लें।
  2. अब इस तेल को अपनी जड़ों और बालों में लगाएं।
  3. फिर जड़ों को उँगलियों से मसाज करें जिससे रक्त परिसंचरण अच्छे से हो सके।
  4. इस तेल को बालों में रातभर के लिए ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  5. फिर बालों को शैम्पू और कंडीशनर से धो लें।

आंवला के तेल के फायदे –

ये तेल पुरुष और महिलाओं दोनों के लिए लाभदायक है जो बालों के टूटने, सफ़ेद बाल और ख़राब हुए बालों के लिए लाभदायक है। इस तेल को अपने बालों में लगाएं जिससे बालों में लचीलता बनी रहे।

(और पढ़ें - आंवला के फायदे)

प्याज झड़ते हुए बालों और अन्य समस्याओं के लिए बेहद फायदेमंद है क्योंकि इसमें हाई सल्फ़र पाया जाता है। इसके एंटीबैक्टीरियल और क्लींजिंग गुण जड़ों में इन्फेक्शन का इलाज करते हैं जिनकी वजह से बाल झड़ते हैं। प्याज में कई तरह के महत्वपूर्ण खनिज और विटामिन होते हैं जो बालों को मजबूत करते हैं और उन्हें बढ़ाते हैं।

(और पढ़ें - बाल झड़ने के कारण)

सामग्री –

  1. 1 छोटी प्याज।
  2. 2 लहसुन की फांकें।
  3. 6 चम्मच नारियल का तेल।
  4. 3 से 4 बूँद लैवेंडर या रोज़मेरी आवश्यक तेल।

विधि –

  1. सबसे पहले एक छोटे पैन में कटी हुई प्याज, लहसुन को नारियल के तेल के साथ डाल दें।
  2. अब इसे हल्की आंच पर गर्म करें और तब तक जब तक बुलबुले दिखना बंद न हो जाएँ।
  3. अब तेल को बंद को ठंडा होने के लिए रख दें।
  4. तेल जब एक बार ठंडा हो जाएँ तो उसमे आवश्यक तेल मिलाएं।
  5. आप इस तेल को दस दिन के लिए फ्रिज में रख कर इस्तेमाल कर सकते हैं।

प्याज का तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले तेल को बालों और जड़ों में लगाकर मसाज करें।
  2. अब 15 सेकेण्ड के लिए बालों को तौलिये से बाँध लें।
  3. 20 मिनट के लिए इस तेल को ऐसे ही बालों में लगा रहने दें और फिर बालों को शैम्पू से धो लें।
  4. प्याज की गंध से बचने के लिए अब एक मग में नींबू के जूस को मिलाकर अपने बालों को धो सकते हैं।

प्याज का तेल के फायदे –

ये तेल आपके बालों को स्वस्थ, खूबसूरत और घना बनाता है। ये बालों को बढ़ाता है और ख़राब होने से रोकता है। प्याज और लहसुन दोनों ही बालों की जड़ों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। ये दो मुहें बालों को रोकते हैं और बालों को लम्बा, घना और चमकदार बनाते हैं।   

(और पढ़ें - प्याज के फायदे)

अदरक झड़ते बालों, डैंड्रफ, जड़ों में खुजली के लिए बेहद प्रभावी होता और बालों को बढ़ने के लिए उत्तेजित भी करता है। ये क्लीन्ज़र और कंडीशनर की तरह काम करता है। इसके सूजनरोधी और एंटीसेप्टिक गुण जड़ों को संक्रमण से दूर रखते हैं।

(और पढ़ें - बालों को लंबा करने के घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. एक चम्मच घिसा अदरक।
  2. एक या दो कप जैतून का तेल।
  3. तीन बूँद रोज़मेरी तेल।

विधि –

  1. सबसे पहले एक या दो कप जैतून के तेल को हल्की आंच में गर्म कर लें।
  2. अब उसमे घिसा अदरक डालें।
  3. उबलने के लिए उसे रख दें और तब तक उबालें जब तक उसमे मौजूद पानी कम न हो जाए।
  4. फिर तेल के ठंडा होने का इंतज़ार करें और फिर इसे एक कटोरी में रख लें।
  5. आखिर में इसमें आवश्यक तेल मिलाएँ।
  6. आप इस तेल को दो हफ्ते तक ठंडी जगह पर स्टोर करके रख सकते हैं। 

अदरक के तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. इस मिश्रण को अपनी जड़ों और बालों में लगाएं।
  2. मसाज के लिए अपनी उँगलियों का इस्तेमाल करें।
  3. फिर इस तेल को बालों में 15 मिनट के लिए ऐसे ही रहने दें और फिर गुनगुने पानी से इन्हे धो लें।
  4. फिर बालों को शैम्पू से साफ़ कर लें।
  5. अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है तो आपको कुछ देर के लिए त्वचा में खुजली हो सकती है लेकिन ये कुछ देर बाद चली जाती है।

नोट - अगर आपको खुलजी को होते हुए काफी समय हो गया है तो अपने बालों को शैम्पू से धो लें।

अदरक के तेल के फायदे –

ये तेल डैंड्रफ को दूर करता है और अन्य जड़ों की समस्याओं को खत्म करता है जिसकी वजह से बाल टूटते हैं या बाल पतले होते हैं। इसकी मदद से बाल घने, स्वस्थ और मजबूत होते हैं। ये प्राकृतिक तेल बालों को चमकदार बनाता है और हमेशा बालों को सुगन्धित रखता है।

(और पढ़ें - अदरक के फायदे)

झड़ते बालों के लिए ये तेल बहुत ही बेहतरीन तेल है। नारियल तेल बालों की रोम तक पहुँचता है और बालों के पोषण को नियंत्रित करके रखता है। जिसके चलते बाल कम खराब होते हैं और हमेशा घने और मजबूत रहते हैं। नारियल के तेल में लॉरिक एसिड (lauric acid) होता है जो जड़ों में होने वाले संक्रमण को दूर रखता है।

(और पढ़ें - बाल बढ़ाने के उपाय)

सामग्री –

  1. नारियल का तेल।

विधि –

  1. नारियल के तेल की कुछ बूँद एक कटोरी में डाल लें।
  2. अब उसे गर्म होने के लिए रख दें।
  3. गर्म होने के बाद उसके गुनगुना होने का इंतज़ार करें।

नारियल का तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले गर्म नारियल के तेल को जड़ों में लगा लें।
  2. लगाने के बाद इस तेल से जड़ों और बालों में मसाज करें।
  3. लगाने के बाद इस तेल को एक या दो घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  4. फिर बालों को शैम्पू से धो लें। ध्यान आपके बालों से नारियल का तेल थोड़ा रहना चाहिए तो इस तरह अपने बालों को धोएं।
  5. हफ्ते में एक बार इस तेल को ज़रूर लगाएं।

नारियल का तेल के फायदे –

इस तेल को लगाने से घुंघराले बालों की समस्या, झड़ते बाल, सफ़ेद बाल आदि जैसी समस्याएं बहुत तेज़ी से खत्म होती हैं। आप बालों को धोने के बाद भी थोड़ा नारियल का तेल अपने बालों में लगा सकते हैं।   

(और पढ़ें - नारियल तेल के फायदे और नुकसान)

मीठा बादाम तेल बेहद प्रभावी होता है क्योंकि इसमें एमोलिएंट और मुलायम बनाने के गुण होते हैं। ये विटामिन डी और विटामिन ई और खनिज जैसे कैल्शियम और मैग्नीशियम से समृद्ध होता है। बादाम तेल आपके बालों के लिए एक प्राकृतिक मॉइचराइज़र की तरह काम करता है साथ ही बालों को रूखा और नाजुक बनाने से रोकता है। इस प्रकार आपके बालों का झड़ना कम होने लगता है। इसके पोषण बालों को स्वस्थ, घना और मजबूत बनाते हैं और तेज़ी से बालों को बढ़ाते भी हैं।   

(और पढ़ें - बालों के झड़ने से रोकने के लिए आयुर्वेदिक सुझाव)

सामग्री –

  1. बादाम का तेल।

विधि –

  1. सबसे पहले बादाम के तेल की कुछ बूँदें लें।
  2. अब उसे कुछ मिनट तक गर्म होने को रख दें।
  3. गर्म होने के बाद उसके गुनगुना होने का इंतज़ार करें।

बादाम का तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले बादाम का तेल उँगलियों पर लें।
  2. अब इन्हे अपनी जड़ों और बालों में लगाएं।
  3. लगाने के बाद 2 मिनट तक मसाज करें।
  4. फिर इस तेल को दो घंटे तक बालों में लगा हुआ रहने दें।
  5. फिर बालों को शैम्पू से धो लें।

बादाम का तेल के फायदे –

ये तेल आपकी डैंड्रफ की समस्या, दो मुहें बाल और चमकदार बनाने में मदद करता है।

(और पढ़ें - बादाम के तेल के फायदे)

जैतून का तेल बालों को पोषण देता है और वो हेयर शाफ़्ट में अवशोषित हो जाता है जो की अन्य तेलों से बेहद प्रभावी है। जैतून के तेल में बालों को नमी पहुंचने के गुण शामिल होते हैं। अगर आप जैतून के तेल का इस्तेमाल करते हैं तो आपके बालों को विटामिन ई और फैटी एसिड मिलेगा जिससे बालों को बढ़ाने में मदद मिलेगी। 

(और पढ़ें - बालों को घना करने के घरेलू उपाय)

सामग्री –

  1. जैतून का तेल।

विधि –

  1. सबसे पहले जैतून के तेल को एक कटोरी में ले लें।
  2. अब इसे गर्म होने के लिए रख दें।
  3. गर्म होने के बाद तेल को थोड़ा गुनगुना होने को रख दें।

जैतून का तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले उँगलियों पर जैतून का तेल लें।
  2. अब उसे बालों और जड़ों में लगाएं।
  3. फिर धीरे धीरे जड़ों में मसाज करें।
  4. तेल को बालों में 30 से 45 मिनट तक रहने दें।
  5. फिर बालों को शैम्पू से धो लें।

जैतून का तेल के फायदे –

जैतून का तेल रूखे बालों और झड़ते बालों की समस्यायों को खत्म करता है। जैतून का तेल बालों बालों को घना और चमकदार बनाता है। ये तेल बालों और जड़ों के संक्रमण से जुडी सभी समस्याओं को कम करता है।

(और पढ़ें - जैतून के तेल के फायदे)

इस तेल में बालों को बढ़ाने के गुण मौजूद होते हैं और इसे झड़ते बालों के लिए प्रभावी उपाय माना जाता है। अरंडी के तेल में एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल और सूजनरोधी गुण शामिल होते हैं।

(और पढ़ें - बाल लंबे करने का शैम्पू)

सामग्री –

  1. अरंडी का तेल।

विधि –

  1. अरंडी के तेल को एक कटोरी में अपने बालों के अनुसार लें।
  2. फिर इसे गर्म होने के लिए रख दें।
  3. गर्म होने के बाद गुनगुना होने का इंतज़ार करें।

अरंडी का तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. सबसे पहले गुनगुने अरंडी के तेल को लेकर जड़ों में मसाज करें और फिर धीरे धीरे इसे पूरे बालों में लगा लें।
  2. इसे एक या दो घंटे के लिए ऐसे ही लगा हुआ रहने दें और फिर बालों को शिकाकाई या रीठा पाउडर से धो लें।
  3. अगर आपको अरंडी का तेल छूने में बहुत गाढ़ा लगता है तो इसे नारियल के तेल या जैतून के तेल के साथ मिलाकर लगाएं।

अरंडी का तेल के फायदे –

ये तेल आपके बालों के लिए बहुत ज़्यादा लाभदायक है जो झड़ते बाल, सफ़ेद बाल और ख़राब हुए बालों का इलाज करने में मदद करता है। इसमें विटामिन ई एंटीऑक्सीडेंट होता है तो आपके बालों के लिए बेहद ज़रूरी है।  

(और पढ़ें - अरंडी के तेल के फायदे और नुकसान)

लैवेंडर का तेल लीखे और जुओं के लिए बेहद प्रभावी है। ये जड़ों का रक्त परिसंचरण बढ़ाता है और एंटी बैक्टीरियल प्रभाव को आपके बालों तक पहुंचाता है जिससे किसी भी तरह का संक्रमण दूर रहता है और आपके बाल हमेशा स्वस्थ रहते हैं।

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के लिए शैम्पू)

सामग्री –

  1. लैवेंडर का तेल।

विधि –

  1. सबसे पहले लैवेंडर के तेल के साथ नारियल के तेल या जैतून के तेल को मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को गर्म कर लें।
  3. गर्म करने के बाद इसे गुनगुना होने के लिए रख दें।

लैवेंडर का तेल का इस्तेमाल कैसे करें –

  1. इस तेल को हथेलियों पर लें और फिर बालों में लगाना शुरू करें।
  2. फिर धीरे धीरे तेल को जड़ों में लगाएं।
  3. अगर आप ताज़ा लैवेंडर का तेल बनाना चाहते हैं तो आप थोड़ा जैतून के तेल को बोतल में डाल लें फिर उसमे लैवेंडर की टहनियां डालें।
  4. ध्यान रहे ये मिश्रण अच्छे से मिल जाए।
  5. अब इस बोतल को अँधेरे में रखें।
  6. आप इस तेल को रोज़ रात को अपने बालों और जड़ों में लगाएं और रातभर के लिए ऐसे ही लगा हुआ रहने दें।
  7. सुबह को फिर बालों को शैम्पू से धो लें।

लैवेंडर का तेल के फायदे –

लैवेंडर का तेल बालों को मजबूत बनाता है और अन्य समस्याओं को दूर करता है।

(और पढ़ें - लैवेंडर के तेल के फायदे और नुकसान)

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें